Khan Sir Complete History Class 02 | Khan Sir Paid Course completely FREE | Tech with Code

 Khan Sir Complete History Class 2

यदि आप किसी भी सरकारी प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं, तो इतिहास से बड़ी संख्या में प्रश्न पूछे जाते हैं। खान साहब द्वारा इतिहास का यह पूरा पाठ्यक्रम पूरे पाठ्यक्रम को कवर करेगा।
ऐसे कई प्लेटफ़ॉर्म उपलब्ध हैं जहाँ आप उनके भुगतान किए गए प्रतियोगिता बैच में शामिल होकर ऑनलाइन अध्ययन कर सकते हैं, लेकिन हम आपको सशुल्क वर्ग को पूरी तरह से निःशुल्क दे रहे हैं। तो नीचे स्क्रॉल करें ↓↓ और वीडियो देखें


If you are preparing for any Government Competitive Exam, there are a huge number of questions asked from the history. This complete course of history by Khan sir will cover the whole syllabus.
There are many platforms are available where you can study online by joining their paid competition batch, but we are giving you the paid class completely free. so scroll down↓↓ and watch the video Now

Khan Sir History Class 1 My Notes

  • पत्थर के औजार के प्रयोग होने के कारण इसे पाषाण काल कहा गया है। 
  • पाषाण काल में सबसे जो पुराना था,उसे पुरापाषाण काल कहा गया है।

पुरापाषाण काल :- 

  • पुरापाषाण काल में सबसे महत्वपूर्ण आग की खोज थी।

मध्य पाषाण काल:- 
  • जानवर को पालने की प्रारंभिक प्रक्रिया मध्य पाषाण काल से ही शुरू हो चुकी थी। इस काल में पशुपालन की प्रक्रिया शुरू हो चुकी थी। इसकी कोई विस्तृत जानकारी नहीं मिली है लेकिन व्यवस्थित ढंग से जानवर नवपाषाण काल में मिले थे
  • कृषि का भी साक्ष्य मध्य पाषाण काल से ही मिला है लेकिन व्यवस्थित ढंग से कृषि नवपाषाण काल से शुरू हुआ अंत्येष्टि:-अंत्येष्टि कार्यक्रम की शुरुआत मध्य पाषाण काल से ही शुरू हैPreHistoric Era Chapter
3.नवपाषाण काल:- 
  • व्यवस्थित ढंग से पशुपालन साक्ष्य नवपाषाण काल में ही पाया गया है जो कुत्ता के रूप में है,
  • कृषि व्यवस्थित ढंग से नवपाषाण काल में मिला है जो पहली कृषि जाँ के रूप में ईरान में हुई थी और गेहूं के रूप में मेहरगढ़ ( पाकिस्तान ) में हुई थी एवं चावल की सबसे पहली खेती कोल्डिहवा ( उत्तर प्रदेश ) में कि गई थी।
  • लोहूरादेव उत्तर प्रदेश के पास एक जगह है प्रतापगढ़ के पास है ये एक नया खोज हुआ है जो कि हाल फिलहाल में हुआ है और इसके हिसाब से पहली बार कृषि चावल के रूप में आठ हजार ईसा पूर्व लोहुरादेव में हुई थी
  • विशाल शव (MegoLith) :- मानव के अवशेष के रूप में सबसे ज्यादा हड्डीया या लाशों का ढेर नवपाषाण काल में ही पाया गया है
4.ताम्र पाषाण काल:- चिलकोलिथ


Related:- Khan Sir Complete History Class 03

इस क्लास में जो ऑब्जेक्टिव क्वेश्चन बन सकता था। वह ऑब्जेक्टिव नीचे दिया गया है।

इतिहास को उसके मिलने वाले धातुओं के आधार पर बांटने वाले इतिहासकार का नाम था?
Ans:-क्रिश्चन जाम जामसन
इतिहास के कालखंड को त्रियुगीन विभाजन किसने किया था?
Ans:-क्रिश्चन जाम जामसन
लिखित के आधार पर बांटने वाले इतिहासकार का नाम था?
Ans:-जॉन ब्रूस
कोपेनहेगन संग्रहालय संग्रहालय किस लिए प्रसिद्ध है?
Ans:-पुरातात्विक स्रोत के लिए
कोपेनहेगन किस देश में स्थित है?
Ans:-डेनमार्क
भारत का संग्रहालय कहां है?
Ans:-भोपाल में
भारत में जो संग्रहालय है उसका नाम क्या है?
Ans:-इंदिरा गांधी मानव संग्रहालय
इंदिरा गांधी मानव मानव संग्रहालय किस मंत्रालय के अधीन आता है?
Ans:-सांस्कृतिक मंत्रालय
भारत के पुरातात्विक का जनक किसको जाता है?
Ans:-कनिंघम को
जॉन ब्रूस किस चीज के लिए प्रसिद्ध थे?
Ans:-भूगर्व
कोपेनहेगन किसके लिए प्रसिद्ध थे?
Ans:-विश्व संग्रहालय
मानव संग्रहालय का नाम बदल कर क्या रख दिया गया?
Ans:-इंदिरा गांधी मानव संग्रहालय
पहली बार पशुओं का साक्ष्य मिलना शुरू हो चुका था?
Ans:-मध्य पाषाण काल
पहली बार पशुपालन की जगह थी?
Ans:-आजमगढ़ (मध्य प्रदेश)
जाँ के रूप में पहली बार खेती कहा हुई थी?
Ans:-ईरान में
मानव ने सबसे पहली बार सुव्यवस्थित ढंग से जीवन यापन कहा सुरु किया था?
Ans:-मेहरगढ़
गेहूं का पहला साक्ष्य कहां मिला था?
Ans:-मेहरगढ़
मेहरगढ़ में सबसे पहली बार खेती कब की गई थी?
7000 ईसा पूर्व
चावल की पहली बार खेती कहां की गई थी?
Ans:-कोलडीहवा (उत्तर प्रदेश)
भारत में पहला कृषि का साक्ष्य कहां मिला था?
Ans:-लोहुरादेव
भारत में पहला चावल का साक्ष्य कहां मिला?
Ans:-कोलडीहवा
पहली बार कृषि का साक्ष्य कहां पाया गया?
Ans:-लोहुरादेव ( उत्तर प्रदेश )
गेरूवर्णीये मृदभांड सबसे ज्यादा कहां मिला है?
Ans:-हस्तिनापुर (हरियाणा)
इतिहास कालखंड के तीनों स्रोत कहां देखा गया है?
Ans:-मेहरगढ़ में
मानव ने सबसे ज्यादा जीवन किस पाषाण काल में व्यतीत किया है?
Ans:-पुरापाषाण काल में
पुरापाषाण काल के मानव थे?
Ans:-आदिमानव
आदिमानव का चित्र देखने को कहां मिला है?
Ans:-भीमबेटका (मध्य प्रदेश)
भीमबेटका की चित्रकारी किस प्रकार की चित्रकारी है?
Ans:-गुफा चित्रकारी
गुफा चित्रकारी कहां पाई गई?
Ans:-भीमबेटका
चिल को लीथ किस काल को कहा जाता है?
Ans:-ताम्र पाषाण काल
माइक्रोलीथ किस पाषाण काल को कहा जाता है?
Ans:-मध्य पाषाण काल
मानव के अवशेषों में सबसे ज्यादा हड्डियां या लाशों का ढेर कब मिला है?
Ans:-नवपाषाण काल में
मानव द्वारा पहली बार ऑन तुष्टि कार्यक्रम कब चालू किया गया?
Ans:-मध्य पाषाण काल में
आजमगढ़ किस लिए प्रसिद्ध था?
Ans:-पशुपालन
लोहुरादेव किस चीज के साक्ष्य के लिए प्रसिद्ध था?
Ans:-चावल और प्रथम कृषि के लिए

आप अपना सलाह,सुझाव कमेंट बॉक्स में जरूर दें।

Thank you धन्यवाद

नोट:- ये खान सर द्वारा बताया गया नोट्स है। 
Class 01 वीडियो देखने के लिए निचे  Watch Now पर क्लिक करे

Khan Sir Complete History Class 02





Disclaimer:-

TechWithCode.com does not aim to promote or condone piracy in any way. Piracy is an act of crime and is considered a serious offense under the Copyright Act of 1957.TechWithCode.com is not responsible for content on external sites.TechWithCode.com Just embedded the video from youtube, We do not own that channel.TechWithCode.com   doesn’t recommend you to download movies, Web series, from any website. 

All videos, clips, images, and titles are copyright to their respective studios and/or production companies. TechWithCode.com claims no ownership or connection to them.

This post was only for information purposes and this website (TechWithCode.com) does not support any Pirated website.

No comments:

Powered by Blogger.